Health

Health News

स्वास्थ्य समिति की बैठक 27 को

स्वास्थ्य समिति की बैठक 27 नवंबर को दोपहर 1 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में होगी। बैठक में स्वास्थ्य विभाग अंतर्गत राष्ट्रीय कार्यक्रमों की समीक्षा, मलेरिया कुष्ट और क्षय नियंत्रण कार्यक्रमों की जानकारी और आयुर्वेद विभाग में संचालित कार्यक्रमों की जानकारी तथा अध्यक्ष, स्वास्थ्य समिति जिला पंचायत बिलासपुर की ओर से अनुमोदित विषयों पर चर्चा होगी।

छत्तीसगढ़ में खुलेंगे आठ नए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र

राज्य सरकान ने छत्तीसगढ़ के चार जिलों में आठ नए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की स्वीकृति दी गई है। इन स्वास्थ्य केन्द्रों के लिए 96 पद भी मंजूर कर दिए गए हैं। स्वीकृति आदेश मंत्रालय (महानदी भवन) से जारी कर दिया गया है।

एचआईवी संक्रमित गर्भवती माताओं को एआरटी से लिंक कर दी जाएगी दवाई

एचआईवी संक्रमित गर्भवती माताओं को एआरटी से लिंक कर दी जाएगी दवाई

गुरूवार को छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति के जिला स्तरीय नोडल अधिकारियों की बैठक लेकर योजना के तहत संचालित `आनाÓ परियोजना की प्रगति की समीक्षा बैठक हुई। बैठक में संचालक स्वास्थ्य सेवाएं रानू साहू ने कहा कि, प्रत्येक गर्भवती माताओं की एचआईवी जांच अवश्य कराया जाए। उन्होंने गर्भवती माताओं के एचआईवी पॉजीटिव पाए जाने पर उन्हें एआरटी केन्द्र से लिंक करते हुए दवाई देने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि, संस्थागत प्रसव उपरांत 26 सप्ताह तक के बच्चों का नियमित फॉलोअप किया जाए, तभी बच्चा एचआईवी निगेटिव आएगा।

प्रदेश में कुपोषण की दर 40.05 प्रतिशत से घटकर 30.13 प्रतिशत

कुपोषण के खिलाफ लड़ाई में छत्तीसगढ़ ने सिर्फ पांच वर्ष के भीतर कामयाबी का शानदार परचम लहराया है। इस लड़ाई में राज्य को लगातार उत्साहवर्धक सफलता मिल रही है। लगभग 50 हजार आंगनबाड़ी केन्द्रों में पौष्टिक आहार और टीकाकरण जैसी सेवाओं और विगत पांच वर्षों से हर साल मनाए जा रहे वजन त्यौहार के फलस्वरूप राज्य में शून्य से पांच वर्ष तक आयु समूह के बच्चों में कुपोषण की दर लगभग 10 प्रतिशत की कमी आई है। आंगनबाड़ी केन्द्रों में वजन त्यौहार वर्ष 2012 से मनाया जा रहा है। वर्ष 2012 में ही राज्य में नौ जिलों का गठन किया गया था, जिन्हें मिलाकर अब छत्तीसगढ़ में 27 जिले हैं। इस अवधि में प्रदेश के सभी 27 जिलों के औस

स्वास्थ्य सुविधाओं की उत्कृष्ठता के लिए 3.31 करोड़ स्वीकृत

   स्वास्थ्य सुविधाओं की उत्कृष्ठता के लिए 3.31 करोड़ स्वीकृत

कलेक्टर ने मंगलवार को लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उप स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा मेडिकल कॉलेज सम्बद्ध जिला अस्पताल का सतत् निरीक्षण किया जा रहा है। कलेक्टर किरण कौशल ने सहायक कलेक्टर डॉ. नितिन गौड़, मेडिकल कॉलेज अस्पताल अधीक्षक डॉ. ए.के. जायसवाल, मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.

समस्याओं को लेकर अस्पताल के अधिकारियों का घेराव

सोमवार को जिला अस्पताल में बढ़ती समस्याओं को लेकर नगरपालिका के पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रकाश चंद्राकर के नेतृत्व में आला अधिकारियों का घेराव किया गया।
प्रकाश चंद्राकर ने बताया कि 18 नवंबर को तुमगांव अस्पताल से एक डिलिवरी केस को प्राइवेट हॉस्पिटल में रिफर किया गया था। जिला अस्पताल में नार्मल डिलिवरी हो गई। चंद्राकर ने आरोप लगाया कि यहां नेत्र जांच कराने आए गए मरीजों से बिना रसीद 350 रुपए से 600 रुपए तक वसूली की जाती है, जिसकी शिकायत पूर्व में भी की जा चुकी है।

सिल्ली में रतनजोत बीज खाकर 8 बच्चे हुए बीमार

सिल्ली में रतनजोत बीज खाकर 8 बच्चे हुए बीमार

पामगढ़ विकास खण्ड के समीपस्थ ग्राम सिल्ली में आधा दर्जन से अधिक बच्चों ने रतनजोत के बीज खाने से उनकी तबीयत बिगडऩे पर परिजनों ने देर शाम उन्हें शासकीय अस्पताल पामगढ़ लेकर आए। जहां चिकित्सकों ने बच्चों को भर्ती कर उपचार शुरु कर दिया है। सभी बच्चों की हालत अब सामान्य बताई जा रही है। रविवार दोपहर के समय 8 बच्चे रतनजोत बीज खाकर बीमार हो गए। इन बच्चों को बेहोशी की हालत मेें 108 की मदद से पामगढ़ अस्पताल लेकर आए। जिस समय बच्चों ने रतनजोत के बीच खाए, उस वक्त उनके माता-पिता खेत गए हुए थे। पड़ोसियों ने बच्चों को उल्टी करते देखा तो इसकी सूचना माता-पिता को दी गई और उन्हें घर बुलाया गया। इसके बाद परिजन उन्

ग्राम ढारा में नि:शुल्क योग शिविर हुआ

आयुष विभाग ने ग्राम ढारा में 15 से 19 नवंबर तक नि:शुल्क 5 दिवसीय योग शिविर हुआ। इसमें योग शिक्षक फत्तेलाल और कमलेश वर्मा ने योगाभ्यास कराया। शिविर की व्यवस्था डॉ. वंदना और उनके सहयोगी नेपाल सिंह सिन्हा ने की। योग शिविर में लोगो ने काफी उत्साह दिखाया, योग शिविर के समापन के अवसर पर नियमित योग कक्षा की स्थापना की गई।

छत्तीसगढ़ में शिक्षा और स्वास्थ्य पर बहुत काम करने की जरूरत : नीति आयोग

छत्तीसगढ़ में शिक्षा और स्वास्थ्य पर बहुत काम करने की जरूरत : नीति आयोग

छत्तीसगढ़ में शिक्षा और स्वास्थ्य पर काम हुआ है, लेकिन अभी बहुत काम करने की जरूरत है। इनमें आदिवासी और गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करने वाले लोग शामिल हैं। शुक्रवार को ये बातें नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने महानदी भवन में हुई बैठक में अधिकारियों से कही। उन्होंने वीएनएस से कहा कि किसानों की आमदनी दोगुनी करना बेहद कठिन लक्ष्य है, इसके लिए नीति आयोग 10 पायलट प्रोजेक्ट्स शुरू करने जा रहा है। उन्होंने राज्य सरकार से कहा कि मॉड्यूल माइनिंग लीजिंग एक्ट पास कर सकें, तो बेहतर होगा, क्योंकि इससे लैंड एग्रीगेशन करना सरल हो जाएगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में पेमेंट का क्राइटेरिया बदल दिया गया

अभिषेक मिश्रा मेमोरियल कप में उतरी 24 टीमें

शंकराचार्य टेक्निकल कैंपस की ओर से अंतर कॉलेज और कॉर्पोरेट मिश्रा मेमोरियल कप टेनिस बॉल क्रिकेट टूर्नामेंट का उद्घाटन बुधवार को हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ पीएस शर्मा, अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ क्रिकेट एसोसिएशन थे। इस अवसर पर गंगाजली एजुकेशन सोसाइटी के अध्यक्ष आईपी मिश्रा और उपाध्यक्ष जया मिश्रा भी उपस्थित थीं।

Related News