इस साल हवाई जहाज में नहीं उड़ पाएंगे बस्तरवासी

संभागीय मुख्यालय जगदलपुर से यात्री विमान सेवा शुरू करने की आवश्यक तैयारियां अभी तक पूर्ण नहीं हो पाई हैं। संभावना व्यक्त की जा रही है कि,अब यह हवाई सेवा अगले वर्ष ही शुरू हो पाएगी। निर्माण कार्यों में देरी के कारण यह अनुमान लगाया गया है।

मावली मंदिर में 9 दिनों तक पुरुषों का प्रवेश निषेध

बस्तर दशहरा पर्व के दौरान मावली मंदिर में नौ दिनों तक अनुष्ठान के दौरान पुरुषों का प्रवेश निषेध होता है। दो समाजों की 12 सुहागिन महिलाएं गौरा-गौरी की विधि पूर्वक पूजा करती हैं। दिलचस्प बात यह है कि, पूजा के दौरान कक्ष का कपाट बंद रहता है और पुरुषों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित होता है। 9 दिनों के अनुष्ठान उपरांत महिलाओं की ओर से स्थापित कलश व प्रतिमा का नवमीं तिथि को विसर्जन किया जाता है।
00 रियासतकाल में महिलाएं रानी को खिलाती थीं प्रसाद :

धमतरी के जनदर्शन में आए 216 आवेदन

धमतरी के जनदर्शन में आए 216 आवेदन

सोमवार को हुए कलेक्टर जनदर्शन में कुल 216 आवेदन आए । जिला पंचायत के सीईओ जगदीश सोनकर ने कार्रवाई करते हुए संबंधित विभाग को निराकरण के लिए टीप लिखकर अग्रेषित किया। ये जानकारी कलेक्टोरेट के जानकर सूत्रों ने दी ।
00 किसने -किस चीज के लिए किया आवेदन :

महापौर, कलेक्टर ने की तलाब की सफाई

 महापौर, कलेक्टर ने की तलाब की सफाई

शहर के तालाबों को संरक्षित और सौंदर्यीकृत करने जिला प्रशासन और नगर निगम के अधिकारी स्वच्छता अभियान से लोग को जोडऩे में लगे हैं। इसी क्रम में सोमवार को महापौर अर्चना चौबे और कलेक्टर डॉ. सीआर प्रसन्ना ने जनप्रतिनिधियों, अधिकारी-कर्मचारियों, स्वयंसेवी संगठनों तथा स्कूली छात्र-छात्राओं के सहयोग से हटकेशर वार्ड के नागसागर तालाब में श्रमदान किया । उन्होंने तालाब के चारों उगे खरपतवार, घास, दूब और कचरों को फावड़ा, कुदाल के माध्यम से उखाड़कर समुचित स्थल पर डम्प किया । इस अवसर पर कलेक्टर ने तालाब के चारों को घूमकर उसे बेहतर और सुन्दर बनाने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए।

रूद्रेश्वर मंदिर में 26 को श्रमदान

`स्वच्छता ही सेवा`` अभियान के तहत् मंगलवार 26 सितंबर को रूद्री स्थित रूद्रेश्वर मंदिर में श्रमदान किया जाएगा। कलेक्टर डॉ. सीआर प्रसन्ना ने अभियान के तहत् सुबह 7 से 9 बजे तक चलने वाले श्रमदान में सभी अधिकारियों को उपस्थित रहने कहा है। इसके साथ ही पंचायत पदाधिकारी और इच्छुक सामाजिक संगठनों को भी श्रमदान कार्यक्रम में सहभागिता देने की अपील की गई है।

ब्लास्ट फर्नेस की स्मार्ट क्यूसी टीम ने जीता गोल्ड अवार्ड

ब्लास्ट फर्नेस की स्मार्ट क्यूसी टीम ने जीता गोल्ड अवार्ड

बीएसपी के ब्लास्ट फर्नेस विभाग में कार्यरत स्मार्ट क्यूसी टीम ने चैप्टर स्तरीय क्वालिटी सर्कल प्रोजेक्ट प्रस्तुतिकरण प्रतियोगिता-2017 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए गोल्ड अवार्ड जीता। प्रतियोगिता कोयंबटूर चैप्टर की ओर से हाल ही में जेएसएस कॉलेज ऑफ फार्मेसी ऊंटी में हुई। इसमें देशभर के विभिन्न संयंत्रों की लगभग 180 टीमों ने हिस्सा लिया।

थिएटर कलाकार युवाओं को दे रहे नाट्य प्रशिक्षण

युवाओं के विकास के लिए रूआबांधा बस्ती में थिएटर कलाकार रिहर्सल के साथ ही नाट्य प्रशिक्षण दे रहे हैं। मध्यप्रदेश नाट्य विद्यालय व सूत्रधार की ओर से 60 दिवसीय कार्यशाला हो रही है। हर रोज दोपहर 3 बजे से 8 बजे तक कलाकार रिहर्सल कर रहे हैं। सिग्मा उपाध्याय उन्हें प्रशिक्षण दे रही हैं। कार्यशाला में संगीत नाट्य अकादमी पुरस्कार विजेता लेखक महेश दत्तानी के नाटक सेवन स्टेप्स अराउंड द फायर को तैयार कर रहे हैं। जो समाज में थर्ड जेंडर की आवाज को मंच से लोगों तक पहुंचाएगी। अक्टूबर में भिलाई में इस नाटक का मंचन किया जाएगा। नुक्कड़ नाटक तैयार किया जा रहा है, जो इसका छोटा रूप है। इसे कलाकार बस्तियों व शहर के

मुकेश अग्रवाल बने जनभागीदारी समिति अध्यक्ष

   मुकेश अग्रवाल बने जनभागीदारी समिति अध्यक्ष

डॉ खूबचंद बघेल शासकीय महाविद्यालय भिलाई-3 के जनभागदारी समिति का अध्यक्ष मुकेश अग्रवाल को बनाया गया है। जिले के प्रभारी मंत्री राजेश मूणत की अनुशंसा पर कलेक्टर दुर्ग ने यह नियुक्ति आगामी दो शिक्षा सत्र हेतु की है।

गडकरी से की कारीगर आयोग के गठन की मांग

भाजपा व्यवसायी प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक और छत्तीसगढ़ खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के सदस्य वी विश्वनाथन आचारी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से नागपुर में मुलाकात की।

आफिसर्स एसोसिएशन के चुनाव को लेकर सरगर्मी हुई तेज

आफिसर्स एसोसिएशन (ओए) की नई कार्यकारिणी के लिए चुनाव की तारीख घोषित होने के साथ ही बीएसपी में माहौल गरमाने लगा है। अफसरों के बीच वर्तमान कार्यकारिणी की सफलता-विफलता का आंकलन शुरू हो गया है।
बीते दो साल में अध्यक्ष नरेंद्र कुमार बंछोर की टीम पे अनामली और एंट्री लेवल अपग्रेडेशन जैसे मद्दे का निराकरण करने में सफल रही। इससे जूनियर अफसरों में राहत देखी जा रही है। एचआरए और पेंशन स्कीम जैसे मुद्दों में मिली विफलता से सीनियर अफसरों में नाराजगी है।