भीषण गर्मी में पानी के लिए दबंग बरपा रहे लोगों पर कहर, शिकायत के बाद भी नहीं की जा रही कोई कार्रवाई…

भीषण गर्मी में पानी के लिए दबंग बरपा रहे लोगों पर कहर, शिकायत के बाद भी नहीं की जा रही कोई कार्रवाई…

इस भीषण गर्मी में पेय जल का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में कोयलीबेड़ा ब्लॉक के लोगों को इस जल संकट से जूझना पड़ रहा है. पूरे गांव में नल कनेक्शन के लिए पाइप लाइन बिछाया गया था. लेकिन इसका लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है. वहीं शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है.

कांग्रेस ने ही पंचायतों को दिया था संवैधानिक दर्जा, लेकिन भाजपा सरकार ने पंचायती राज को किया कमज़ोर- पीएल पुनिया

कांग्रेस ने ही पंचायतों को दिया था संवैधानिक दर्जा, लेकिन भाजपा सरकार ने पंचायती राज को किया कमज़ोर- पीएल पुनिया

4 राज्यों के पंचायत प्रतिनिधियों के जन स्वराज सम्मेलन में कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पी एल पुनिया ने कहा कि कांग्रेस ही वो पार्टी है, जिसने पंचायतों को संवैधानिक दर्जा दिया. उन्होंने कहा कि इसके लिए ऐतिहासिक संविधान संशोधन किया गया था. उन्होंने कहा कि आज हम भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को याद करते हैं, जिनकी सोच थी कि देश के विकास के लिए पंचायतों को मजबूत किया जाए.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरविंद नेताम ने की घर वापसी, राहुल गांधी के सामने किया कांग्रेस प्रवेश

पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरविंद नेताम ने की घर वापसी, राहुल गांधी के सामने किया कांग्रेस प्रवेश

छत्तीसगढ़ के दिग्गज आदिवासी नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरविंद नेताम ने आज फिर कांग्रेस का दामन थामते हुए एक तरह से घर वापसी कर ली है. एक वक्त नेताम की गिनती बस्तर के प्रमुख नेताओं में होती थी. पिछले कुछ समय से वे कांग्रेस और भाजपा से अलग आदिवासियों को एकजुट करने की कोशिश कर रहे हैं. उनके कांग्रेस में प्रवेश से कांग्रेस को आदिवासी बाहुल्य इलाकों में फायदा मिल सकता है. नेताम पूर्व भाजपा सांसद सोहन पोटोई के साथ नई पार्टी बनाई थी, अब देखने वाली बात होगी उस पार्टी का आगे क्या होता है.

भाजपा कर रही है संविधान और प्रजातंत्र को कमज़ोर, राहुल की सभा में गरजे भूपेश

भाजपा कर रही है संविधान और प्रजातंत्र को कमज़ोर, राहुल की सभा में गरजे भूपेश

पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने पंचायत प्रतिनिधियों के जन स्वराज सम्मेलन में कहा कि पंचायत तो गांवों में है, लेकिन कानून बनाने का काम सिर्फ पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी ने ही किया था. उन्होंने कहा कि देश में केवल 5 हजार जनप्रतिनिधि थे, लेकिन लाखों लाख लोगों को जनप्रतिनिधि बनने का मौका किसी ने दिया, तो केवल कांग्रेस ने दिया है.

भूपेश ने कहा कि कांग्रेस लगातार लोगों को मजबूत करने का काम करती रही है, लेकिन बीजेपी लगातार संविधान को कमजोर करने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र खतरे में है.

प्रदेश बीजेपी ने राहुल गांधी पर कसा तंज, पूछा- ‘क्या अमेठी छत्तीसगढ़ से ज्यादा विकसित है’

प्रदेश बीजेपी ने राहुल गांधी पर कसा तंज

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ दौरे पर प्रदेश भाजपा ने जमकर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट किया ”राहुल गांधी जी समृद्ध छत्तीसगढ़ में स्वागत है. आपकी पार्टी के नेताओं को मतिभ्रम हो गया है, इसलिए राज्य में विकास खोज रहे हैं. छत्तीसगढ़ का विकास आपको चुनौती देता है कि आप बताएं क्या अमेठी छत्तीसगढ़ से ज्यादा विकसित है?

बीजेपी ने राहुल गांधी को चुनौती दी. भाजपा ने ट्वीट किया और तीन चुनौती दी-
1. मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह जी ने राजनांदगांव आने और विकास देखने के लिए कहा, लेकिन आपने कोई जवाब नहीं दिया.

पुलिस को बड़ी सफलता, 8-8 लाख रु के इनामी नक्सली दंपति ने किया आत्मसमर्पण

पुलिस को बड़ी सफलता, 8-8 लाख रु के इनामी नक्सली दंपति ने किया आत्मसमर्पण

पुलिस को आज बड़ी सफलता मिली है. यहां 8-8 लाख रुपए के इनामी नक्सली दंपति ने सरेंडर किया है. इनके नाम फागू कारम उर्फ सन्नू (DAKMS अध्यक्ष) और आयती (KAMS अध्यक्ष) हैं. उन्होंने कहा कि नक्सली विचारधारा से क्षुब्ध होकर वे सरेंडर कर रहे हैं.

एसपी कमलोचन कश्यप के सामने दोनों ने आत्मसमर्पण किया. दोनों नक्सली 14 सालों तक नक्सलियों के संगठन से जुड़े रहे. दोनों कई वारदातों में शामिल रह चुके हैं. नक्सली दंपति 2004 से नक्सली घटनाओं में सक्रिय थे. पुलिस ने इन्हें 10 -10 हजार रुपए का प्रोत्साहन राशि का दिया भी दिया है.

सेंट्रल जेल में 17 कैदी हुए फूड पॉइज़निंग का शिकार, 1 की मौत

सेंट्रल जेल में 17 कैदी हुए फूड पॉइज़निंग का शिकार, 1 की मौत

सेंट्रल जेल के 17 कैदियों की तबीयत अचानक बिगड़ गई है. जिन्हें जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि इलाज के दौरान ही 1 कैदी की मौत भी हो गई है. जानकारी के मुताबिक यह घटना तकरीबन 12 बजे की बताई जा रही है. डॉक्टरों के मुताबिक ज्यादातर मरीज फूड पॉइज़निंग का शिकार हुए हैं. जबकि कुछ मरीजों को अलग-अलग समस्याएं हैं. चिकित्सकों ने बताया कि इन मरीजों में कुछ मरीजों में खून की भी भारी कमी है.

सरकारी चपरासी से एक अफसर घर में कराता था ये काम, इसी दौरान हो गई उसकी मौत, अब पुलिस नहीं सुन रही परिजनों की गुहार

WhatsApp-Image-2018-05-16-at-00.50.35-722x556.jpg

बिलासपुर से एक अजीबों-गरीबों मामला सामने निकलकर आया है. जल संसाधान विभाग के एडीओ एस एल त्रिवेदी कार्यालय के चपरासी से अपने घर का काम कराता था. घर के निर्माणाधीन भवन का बीम गिरने से चपरासी घायल हो गया. जिसके बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई. लेकिन इसकी शिकायत के बाद भी पुलिस मामले की जांच नहीं कर रही .

दरअसल शक्ति में रमेश श्रीवास 5 महीने से चपरासी के पद पर पदस्थ था. जिसे उसी कार्यालय के एडीओ एस एल त्रिवेदी अपने निर्माणाधीन मकान में काम कराया करता था. उसे कार्यालय का काम करने के बाद रोजाना घर के काम के लिए बिलासपुर भेजा जाता था. शनिवार को निर्माणधीन मकान का बीम गिरने से वह घायल हो गया था.

स्कूल से लौटते वक्त छात्र ने किया तालाब में स्नान, उसके बाद हुआ कुछ ऐसा जिसके चलते माता पिता ने जड़ दी उसके पैरों में बेड़ियां

स्कूल से लौटते वक्त छात्र ने किया तालाब में स्नान

जिले के महेशपुर गांव में एक युवक 18 सालों अपने ही घर में बंधक बनकर जीने को मजबूर है. ये किसी जुर्म की सजा नहीं का रहा है, बल्कि इसका गुनाह सिर्फ इतना है कि उसकी मानसिक स्थित ठीक नही है और उसने एक गरीब परिवार में जन्म लिया है. आर्थिक स्थित ठीक न होने के कारण परिवार कि लोग युवक का इलाज कराने असमर्थ है. इसलिए मां-बाप ने अपनी लाचारी के चलते अपने ही बेटे के पैरों में बेड़ियां डाल दी.

बिल पास कराने इंजीनियर ने की ठेकेदार से ऐसी डिमांड, भुगतना पड़ा उसे यह अंजाम

बिल पास कराने इंजीनियर ने की ठेकेदार से ऐसी डिमांड, भुगतना पड़ा उसे यह अंजाम

एसीबी की टीम ने बड़ी कार्रवाई की है. एसीबी ने कृषि अभियांत्रिकी विभाग के सहायक कृषि अभियंता ए.के. पांडे को 10 हजार रुपए का रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. ठेकेदार के शिकायत के आधार पर की गई ये कार्रवाई.

आरोपी ए.के. पांडे ने ठेकेदार से चैक डैम की 2 लाख की राशि को भुगतान करने के लिए रिश्वत मांगी थी. आरोपी ने ठेकेदार से 35 हजार रुपए की मांग की थी. इससे पहले ठेकेदार सहायक कृषि अभियंता को 25 हजार रुपए दे चुका था. लेकिन कृषि अभियंता द्वारा बार-बार मांग करने पर वह तंग आकर एसीबी को सूचना दे दी.