Gariaband

Gariaband New District of Chhattisgarh

बिंद्रानवागढ़ में बदली चुनावी फिजां

जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आते जा रही हैं। वैसे-वैसे राजनीति फिजा भी बदल रही है। बिंद्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र में भी कुछ ऐसे ही नजारे देखने को मिल रही हैं। यहां कांग्रेस और भाजपा के बीच बाहरी बनाम विकास के मुद्दे पर सियासी जंग होगी। तीसरी पार्टी को अपने अस्तित्व बचना क¢ भी लाले पड जाएंगे।

कभी अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री थे यहां के विधायक

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में दो विधानसभा हैं राजिम और बिंद्रानवागढ, आज की परिस्थिति में बिंद्रानवागढ विधानसभा में 2 लाख 10 हजार 520 मतदाता हैं। बहुत कम लोगों को जानकारी होगी कि आजादी के बाद 1952 में बिंद्रानवागढ़ और देवभोग युग्म (ड्यूल) विधानसभा थी, इसमें से बिंद्रानवागढ़ का प्रतिनिधित्व खूबचंद बघेल और देवभोग का प्रतिनिधित्व गौकरण सिंह ठाकुर करते थे। आपको ये भी बता दें कि 1957 में श्यामाचरण शुक्ल बिंद्रानवागढ से विधायक चुने गए थे। कहा जाता है कि श्यामाचरण शुक्ल ने अपनी राजनैतिक पारी की शुरुआत बिंद्रानवागढ से ही की थी, आगे चलकर 1962 में इस विधानसभा को अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित कर दिया गय

एक सप्ताह के भीतर लायसेंसी शस्त्र जमा करें : कलेक्टर

जिला दण्डाधिकारी ने विधानसभा चुनाव के निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव के लिए गरियाबंद जिला सीमा क्षेत्र के भीतर रहने वाले सभी शस्त्र लायसेंसियों को आदेश किया गया है कि वे अपने-अपने अस्त्र-शस्त्र 7 दिवस के भीतर नजदीकी पुलिस स्टेशन में जमा करें। विधानसभा निर्वाचन की समाप्ति तक के लिए गरियाबंद जिला सीमा क्षेत्र के भीतर रहने वाले शस्त्र लायसेंसियों के शस्त्र लायसेंस निलंबित किए जाते हैं। इसके अतिरिक्त लायसेंसी अपने शस्त्र गरियाबंद नगर के शस्त्र डीलर जिनके पास शस्त्र डिपोजिट करने अनुज्ञप्ति है, वहां भी जमा कर सकते हैं। जो व्यक्ति शस्त्र डीलर थानेवार जानकारी तैयार कर संबंधित थाने में और दण्डाधिकारी कार

`भारत 4` के बदले `भारत 2` मोबाइल दिए जाने की शिकायत लेकर पहुंचे विद्यार्थी

`भारत 4` के बदले `भारत 2` मोबाइल दिए जाने की शिकायत लेकर पहुंचे विद्यार्थी

शासकीय औद्योगिक संस्था मैनपुर व छुरा के छात्र-छात्राओं ने गुरुवार को कलेक्टर जनदर्शन में मोबाइल वितरण को लेकर शिकायत की है। छात्र-छात्राओं ने संचार क्रांति योजना के तहत वितरित मोबाइल के फीचर का लिखित उल्लेख कर जनदर्शन आवेदन में किया है। उन्होंने कहा कि उन्हे गत 25 सितंबर को भारत 2 मोबाइल सेट दिया गया है, जबकी छात्रों को योजना के तहत निर्धारित भारत 4 ( माईक्रोमेक्स क्यु 440) दिया जाना था।

स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए अधिकारी-कर्मचारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें: कलेक्टर

स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए अधिकारी-कर्मचारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करें: कलेक्टर

आगामी विधानसभा निर्वाचन 2018 को लेकर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम धावड़े ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली। कलेक्टर श्री धावड़े ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि गरियाबंद जिले में निर्वाचन कार्यों के लिए सेन्ट्रल आर्म फोर्स के जवान आएंगे, उन्हें जहां-जहां ठहराया जाएगा, वहां पेयजल, शौचालय, बिजली एवं अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध होनी चाहिए। बैठक में पुलिस अधीक्षक एमआर अहिरे, वन मण्डलाधिकारी राजेश पाण्डेय, अपर कलेक्टर केके बेहार, उप जिला निर्वाचन

ग्रामीणों की मांग हो, वहां शीघ्र शुरू कराए रोजगार मूलक कार्य: कलेक्टर

ग्रामीणों की मांग हो, वहां शीघ्र शुरू कराए रोजगार मूलक कार्य: कलेक्टर

कलेक्टर श्याम धावड़े ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में विभिन्न विभाग के कार्यों की समीक्षा की। कलेक्टर श्री धावड़े ने कहा कि जिन गांवों में रोजगार की जरूरत है, जहां गरीब तबके के लोग हैं, वहां ग्रामीणों की मांग पर शीघ्र कार्य शुरू कराये। यह सुनिश्चित करें कि कहीं भी मनरेगा के अंतर्गत मजदूरी भुगतान बिल्कुल लंबित नहीं रहना चाहिए। श्री धावड़े ने कहा कि जहां आबादी पट्टा, वन अधिकार मान्यता पत्र और मोबाइल वितरण कार्य शेष हो, तो जल्द हितग्राहियों को इनका वितरण सुनिश्चित कराये।

दिव्यांग की मौत पर यूथ कांग्रेस का सियासत, विरोध के बाद प्रशासन ने दिव्यांग की पत्नी को दिया मुआवजा

दिव्यांग की मौत पर यूथ कांग्रेस का सियासत, विरोध के बाद प्रशासन ने दिव्यांग की पत्नी को दिया मुआवजा

मृत दिव्यांग गोकुल की पत्नी को परिवार सहायता योजना 20 हजार रुपए का चेक व पेंशन की मंजूरी पंचायत विभाग ने दिया. पिता बोले प्रशासनिक लापरवाही से मौत हुई है. शासन से मुवावजा नहीं मिलते तक चुप नहीं बैठूंगा. कांग्रेस को भी मिला सियाशी दांव खेलने का मौका तो यूथ के जिला उपाध्यक्ष पीड़ित परिवार के घर पहुंच गया. मुआवजा नहीं मिलते तक आंदोलन करने का किया ऐलान.

जर्जर जिला अस्पताल में छत से टपकते पानी के बीच हो रहा मरीजों का इलाज, पिछले साल ही हुआ था लाखों रुपए की खर्च से मरम्मत…

जर्जर जिला अस्पताल में छत से टपकते पानी के बीच हो रहा मरीजों का इलाज, पिछले साल ही हुआ था लाखों रुपए की खर्च से मरम्मत…

गरियाबंद जिला अस्पताल जर्जर हो चुका है. यहां मरीजों के जान का खतरा हमेशा बना रहता है. इसके बावजूद जिला अस्पताल प्रबंधन ध्यान नहीं दे रही है. गुरुवार की बीती रात तेज बारिश होने से छत से पानी सीपेज हो रहा था. ऐसे हालत में मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा. मरीज को रात भर रतजगा करना पड़ा. जिला अस्पताल के महिला एवं पुरुष वार्ड, ओपीडी वार्ड के अलावा दूसरे वार्डों में पानी भर गया. मरीज बेड पर बैठे- बैठे रात गुजारी.

कलेक्टर जनदर्शन में मिले 121 आवेदन

कलेक्टर जनदर्शन में पहुंचीं मितानिनों ने कलेक्टर को स्वास्थ्य पंचायत सम्मेलन में शिरकत करने का निवेदन किया। कलेक्टर श्याम धावड़े ने निवेदन स्वीकार करते हुए इसमें शामिल होने का आश्वासन दिया। इसके अलावा ग्राम सहसपुर से आए ग्रामीणों के आवेदनों की अधिकता को देखते हुए उन्होंने यहां पर शिविर लगाने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारी को दिए। आज आयोजित कलेक्टर जनदर्शन में कुल 121 आवेदन प्राप्त हुए। कलेक्टर जनदर्शन में अधिकतर आवेदन प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सूची में नाम शामिल कराने, पेंशन स्वीकृत करने तथा राशन कार्ड बनवाने की मांग से संबंधित थे। इस अवसर पर डी.एफ.ओ.

कौशल परीक्षा 19 को

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत तकनीकी सहायक (संविदा) के रिक्त पदों की भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किये गए थे। अभ्यर्थियों से प्राप्त पात्र आवेदनों की दावा-आपत्तियों के निराकरण के बाद कौशल परीक्षा का आयोजन बुधवार 19 सितम्बर को किया जाएगा। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत विनीत नंदनवार ने कहा कि कौशल परीक्षा के लिए तैयार की गई सूची जिले की वेबसाइट अपलोड कर दी गई है। उन्होंने कहा कि तिथि को अभ्यर्थियों के दस्तावेजों का सत्यापन और कौशल परीक्षा सुबह 10.30 बजे से जिला पंचायत कार्यालय में आयोजित की जाएगी।