Raipur

CG-04, Raipur

शराब पीते 4, बेचते एक गिरफ्तार

सार्वजनिक स्थान पर सरेआम शराब पीते 4 आरोपियों को तेलीबांधा थाना पुलिस ने और अवैध शराब बेचते एक आरोपी को खमतराई थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया। दोनों मामलों में आबकारी एक्ट के तहत अपराध कायम किया है।
00 कैसे चढ़े पुलिस के हत्थे :
तेलीबांधा थाना पुलिस ने आरोपी संतोष साहू (52) निवासी जोरा को जोरा बस स्टैंड के पास, श्यामलाल ध्रुव (29) निवासी सूरजनगर, सगुन दिलीर (30) निवासी लाभाण्डी, और नरेश यादव (32) निवासी जोरा को लाभाण्डी शराब दुकान के पास गिरफ्तार किया गया। चारों आरोपी सरेआम शराब पी रहे थे। मामले में आबकारी एक्ट की धारा 36सी के तहत अपराध कायम किया गया है।

बुनियादी शिक्षा मुहैया कराने डिश टीवी ने हाथ मिलाया

राष्ट्र निर्माण में योगदान के साथ एशिया के सबसे बड़े डीटीएच ब्रांड प्रदाता डिश टीवी ने भारत में उत्तर प्रदेश के ग्रामीण हिस्सों में वंचित बच्चों को बुनियादी शिक्षा मुहैया कराने के लिए एकल विद्यालय और भारत लोक शिक्षा परिषद् (बीएलएसपी) से हाथ मिलाया है। उत्तर प्रदेश में सैकड़ों बच्चों की जिम्मेवारी लेने के बाद विचार हर तिमाही, हर वर्ष इस संख्या को बढ़ाने का है और भारत में निरक्षरता उन्मूलन के मिशन में योगदान का है।

निधन

मठपुरैना, रावतपुरा कॉलोनी निवासी ठाकुर दुर्जन सिंह का शुक्रवार को निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार शनिवार सुबह 10 बजे महादेवघाट मुक्तिधाम में किया गया। वे राजीव सिंह, संजय सिंह, उषा सिंह, आशा सिंह के पिता और नीरज प्रताप सिंह के ससुर थे।
पद्मा टहल रामानी
रायपुर (वीएनएस)। दीनदयाल उपाध्याय नगर निवासी पद्मा टहल रामानी (85) का गुरुवार को निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार मारवाड़ी श्मशानघाट में किया गया। वे मनोज की माता, आकाश और विशाल की दादी थीं।
भेरूमल मंधानी

शिक्षाकर्मियों के बड़े नेताओं को बर्खास्त करेगी सरकार

राज्य सरकार ने आंदोलनरत शिक्षाकर्मियों के अडिय़ल रूख को देखते हुए अब उनके संगठन के प्रमुख नेताओं को चिन्हांकित करने और उनकी बर्खास्तगी जल्द करने का मन बना लिया है। अगले दो-तीन दिनों में उनके बड़े नेताओं की बर्खास्तगी का सिलसिला शुरू हो जाएगा। सरकार ने शिक्षाकर्मियों से बातचीत के दरवाजे हमेशा खुले रखे हैं और उन्हें सरकारी शिक्षकों के बराबर वेतनमान भी दिया जा रहा है।

प्रदूषण जांच कराने की यातायात पुलिस की अपील

यातायात पुलिस ने वाहन चालकों/मालिकों से अपील है कि अपने वाहनों के वायु प्रदूषण की जांच प्रदूषण जांच केन्द्रों में जाकर अनिवार्य रूप से कराकर रायपुर शहर के बढ़ते प्रदूषण को नियंत्रित करने में अपना सहयोग देकर जिम्मेदार नागरिक बनें।

एड्स दिवस पर निकली जनजागरूकता रैली

प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी आज एक दिसंबर को विश्व एड्स दिवस के अवसर पर एड्स बिमारी से बचाव के बारे में लोगों को जागरूक करने रैली निकाली गई। यह जनजागरूकता रैली सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बीरगांव की ओर से रावांभाठा बस्ती, बाजार चौक, ट्रॉसपोर्ट नगर और उरला में की गई। रैली के माध्यम से लोगों को एड्स बीमारी और इससे बचाव के संबंध में जानकारी दी गई।
इस रैली में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. के.एस. शाडिल्य, डॉ. अविनाश चतुर्वेदी, डॉ. अंजना लाल सहित सभी आरएनटीसीपी और आईसीटीसी कर्मचारी, एएनएम और एनजीओ के कार्यकर्ता शामिल हुए।

युवाओं के लिए प्लेसमेंट कैम्प 4 को

शिक्षित बेरोजगार युवाओं को निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र रायपुर की ओर से आगामी 4 दिसंबर को सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे तक प्लेसमेंट कैम्प होगा।

कांग्रेस स्थापना दिवस से राजधानी में होगी जनअधिकार पदयात्रा

कांग्रेस पार्टी के 132 वे स्थापना दिवस के अवसर पर 28 दिसम्बर से शहर जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से राजधानी में जन अधिकार पदयात्रा शुरू होगी । इसकी रणनीति बनाने शुक्रवार को शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने कांग्रेस नेताओं से राय मशविरा किया। दस चरण में होंगे पदयात्रा धार्मिक स्थल में पूजा पाठ, महापुरुषों का नमन से रोज शुरु होगी यात्रा। कांग्रेस की ओर से नुक्कड़ नाटक, नुक्कड़ सभा और बैनर पोस्टर, पॉम्पलेट के जरिए पोल खोल किया जाएगा।

तेन्दुपत्ता बोनस तिहार 2 को , मुख्यमंत्री करेंगे बीजापुर से करेंगे शुरुआत

किसानों को धान पर बोनस देने का संकल्प पूरा करने के लिए माह अक्टूबर में मनाए गए ÓतिहारÓ के लगभग एक महीने बाद मुख्यमंत्री डॉ.

ईद पर राजधानी में नहीं मिलेगी धरना-प्रदर्शन की अनुमति

जिला प्रशासन ने कल दो दिसम्बर को ईद-मिलाद-उन-नबी के पावन पर्व के अवसर पर राजधानी रायपुर में शांति और सौहाद्र्रपूर्ण वातावरण बनाए रखने की दृष्टि से किसी भी संगठन और किसी भी संस्था को रैली और धरना-प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी है। ताकि लोग शांतिपूर्ण ढंग से त्यौहार मना सकें। इनमें पंचायत संवर्ग के शिक्षक (शिक्षाकर्मी) भी शामिल हैं, जिन्हें राजधानी में शांति व्यवस्था बनाए रखने की दृष्टि से कलेक्टर रायपुर की ओर से रैली और प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी गई है। जिला प्रशासन ने सभी संगठनों और नागरिकों से शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए सहयोग की अपील की है।