Ambikapur

CG-15, Ambikapur

सीतापुर विधायक ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

विगत दिनों जिला पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सदस्यों की ओर से भ्रष्टाचार के विरोध में धरना प्रदर्शन किया गया । वहीं कांग्रेस विधायक अमरजीत भगत ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर भ्रष्टाचार रोकने की मांग की है।

सनराइज स्कूल में बच्चों से पूछे गए प्रश्न,सम्मान

पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह युवा समिति सरगुजा ने यूनिक कान्वेंट सनराइज स्कूल में तत्कालिक प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता रखी। कार्यक्रम में शानू कश्यप, भाजपा नगर उपाध्यक्ष आकाश गुप्ता, पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिला महामंत्री जितेन्द्र सोनी, सौरभ चखियार, सांसद प्रतिनिधि शानु कश्यप, कन्या शक्ति संयोजिका दीक्षा अग्रवाल उपस्थित थे। मेधावी विद्यार्थियों का मोमेन्टो से सम्मान किया गया। उन्हें उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी गई। प्रश्नोत्तरी में सही उत्तर देने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में स्कूल के प्राचार्य और समस्त स्टाफ का विशेष योगदान रहा।

मौलिक कर्तव्य पर विद्यार्थियों ने दिया वैज्ञानिक दृष्टिकोण

जिला स्तर पर शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में मौलिक कर्तव्य पर वैज्ञानिक दृष्टिकोण विषय पर वाद-विवाद प्रतियोगिता हुई । प्रतियोगिता में पक्ष में शामिल शासकीय बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अम्बिकापुर के विशाल यादव प्रथम स्थान और शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बतौली की मनु चौबे ने दूसरे स्थान पर रही।

संभागीय समीक्षा बैठक 20 को

राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय 20 सितम्बर को दोपहर 1 बजे से जिला पंचायत के सभाकक्ष में संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक लेंगे। पूर्व में यह बैठक 11 बजे से होने वाली थी, जिसका समय दोपहर 1 बजे किया गया है। सरगुजा संभाग की कमिश्नर रीता शांडिल्य ने संभाग के सभी कलेक्टरों से कहा है कि वे संभागीय समीक्षा बैठक में नियत स्थान और समय पर उपस्थित हों ।

मंत्री पाण्डेय 20 को अम्बिकापुर में

राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय 19 सितम्बर की रात अम्बिकापुर सर्किट हाऊस आएंगे और रात्रि विश्राम करेंगे। 20 सितम्बर को सुबह 11 बजे सरगुजा विश्वविद्यालय अम्बिकापुर के कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। दोपहर 12.30 बजे सर्किट हाऊस आएंगे। मंत्री पाण्डेय दोपहर 1 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग की संभागीय समीक्षा बैठक लेंगे। इसके बाद शाम 5 बजे सर्किट हाऊस जाएंगे। रात्रि 8 बजे रायपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।

मैनपाट में गजदलों के आतंक से दो गावों के कई मकान जमीदोज

amb news hathee-1.jpg

गजदलों के आतंक से मैनपाट थर्राया हुआ है। हाथियों की दहशत से दो बस्तियां खाली हो चुकी है। मैनपाट परिक्षेत्र के ग्राम कण्डराजा पटेलपारा और बैगापारा में बुधवार-गुरूवार की दरम्यानी रात गजदल ने पुन: जमकर उत्पात मचाया। शुक्रवार को ये जानकारी सरगुजा के सीएफ व डीएफ ओ प्रियंका पांडेय ने दी उन्होंने बताया कि गजदलों ने पटेलपारा व बैगापारा की पूरी बस्ती को ही उजाड़ डाला। दोनों बस्ती में 25 मकानों को धराशाई कर दिया है। अब पटेलपारा व बैगापारा में कुछ कुछ गिने-चुने कच्चे मकान बाकी बचे हैं ।

जोगी कांग्रेस छात्र संघ ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

hastakshar abhiyan.jpg

छत्तीसगढ़ छात्र संगठन जोगी सरगुजा की ओर से महाविद्यालयों में छात्रसंघ चुनाव बन्द करवाने के विरोध में प्रदेश स्तरीय आंदोलन के दूसरे चरण में शुक्रवार को महाविद्यालयों में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया । कुछ दिनों पूर्व संघ ने प्रथम चरण में सभी महाविद्यालयों के प्राचार्य को ज्ञापन दे कर चुनाव न करवाने का विरोध जताते हुये ज्ञापन सौंपा था।

गजदलों के आतंक से थर्राया मैनपाट, दो बस्तियां खाली

amb news gajdal-4.jpg

गजदलों के आतंक से मैनपाट थर्राया हुआ है। हाथियों की दहशत से दो बस्तियां खाली हो चुकी है। मैनपाट परिक्षेत्र के ग्राम कण्डराजा पटेलपारा और बैगापारा में बुधवार-गुरूवार की दरम्यानी रात गजदल ने पुन: जमकर उत्पात मचाया। गजदलों ने पटेलपारा व बैगापारा में बसे पूरी बस्ती को ही उजाड़ डाला। गजदलों ने दोनों बस्ती में 25 मकानों को धराशाही कर दिया है। अब पटेलपारा व बैगापारा में कुछ गीने-चुने कच्चे मकान ही बच गये हैं।

रिहायशी इलाकों में सुअर पालन बंद कराने प्रशासन से आग्र

Collector

नगर निगम क्षेत्र में सुअर पालन को बंद कराने की लगातार बढ़ती मांग के बीच बुधवार को निगम सभापति शफी अहमद के साथ निगम के कई पार्षदों ने कलेक्टर सरगुजा से मुलाकात की। इस विषय में जिला प्रशासन की ओर से सहयोग करने के लिए आगह किया।

अम्मा कैंटीन को पीछे छोड़ा अंबिकापुर की महिलाओं ने

wp-image-929465355-768x694.jpg

तमिलनाडु में अम्मा कैंटीन काफी मशहूर है. ये मशहूर है कम कीमत पर गरीबों को खाना खिलाने के लिए. लेकिन छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर की महिलाओं ने इस कैंटीन को भी पीछे छोड़ दिया. अम्मा कैंटीन में कम कीमत पर खाना खिलाया जाता है लेकिन अंबिकापुर में इन महिलाओं ने गरीबों को मुफ्त में भरपेट खाना खिलाने की शरुआत की है.

यहां कंपनी बाज़ार में रात को हर गरीब को खाना खिलाने का बीड़ा यहां की महिलाओं ने उठाया है. ये महिलाओं शहर के बेसहारा और गरीब लोगों को हफ्ते में चार दिन खाना खिलाती हैं. इसमें से शनिवार का दिन तय है और बाकी के तीन दिन सुविधानुसार होते हैं.