Chhattisgarh

दरिंदगी ऐसी की रूह कांप उठे, जला दिया 1 माह की बच्ची को

Bachhi-0101-225x300.jpg

3 महीने की इस बच्ची को देखकर आपकी रूह भी कांप जाएगी.. कहानी ऐसी की मानवता भी शर्मा जाए…ज़ख्म ऐसा कि वह भी रो पड़े.. लेकिन उन्हें थोड़ी भी शर्म नहीं आई.. इस फूल सी नाजुक मासुम पर तरस नहीं आया.. उनके हाथ जरा भी कांपे नहीं.. जब इस मासूम को वो जला रहे थे.. कहने को तो नाना-नानी थे..लेकिन काम ऐसा किया जो शैतान भी करने से पहले हजार बार सोचे..

जब ये सिर्फ एक महीने की थी, बच्ची को हंसिये से जला दिया गया था..2 महीने तक मौत से लड़ने के बाद बच्ची को बचाया जा सका है…पर हालत अभी भी नाजुक है..

छत्तीसगढ़ में तीन महिलाओं की चोटी रहस्यमय तरीके से कटी

चोटी कटी

पहली घटना भिलाई के खुर्सीपार थाने क्षेत्र की माँ और बेटी की चोटी कटी मिली. सड़क न2 दो की रहने वाली गीता देवी आज दोपहर में अपने घर पर सोई हुई थी उठने के बाद उसने देखा कि बिस्तर पर करीब 6 इंच लम्बा बाल के गुच्छा पडा हुआ है तभी उसका ध्यान अपने सिर के बालों पर गया उसके अपने बाल कटे हुए थे. वो काफी घबरा गई थी. उसने अपनी बिटिया को पानी के लिये आवाज लगाई.

4 शहीद जवानों समेत 28 को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

Jawan

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य के 28 पुलिस अधिकारियों और जवानों को सम्मानित किया। 7 जवानों को वीरता पदक से सम्मानित किया गया, जिनमें चार शहीदों को मरणोपरांत वीरता पदक से सम्मानित किया। जिनमें शहीद पंकज सूर्यवंशी आरक्षक जिला नारायणपुर, शहीद सीताराम कुंजाम आरक्षक 317 थाना भैरमगढ़ जिला बीजापुर , शहीद पायकू पोयामी, शहीद मोतीराम दिलाओ आरक्षक जिला बीजापुर, रमेश कुमार नाग आरक्षक जिला नारायणपुर, चाणक्य नाग निरीक्षक थाना उसूर जिला बीजापुर, ओमप्रकाश सेन कंपनी कमांडर एसटीएफ बघेरा दुर्ग।

जहा जवानों की हुई थी शहादत वहां लहराया तिरंगा

army

नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों ने भेज्जी के उस इलाके में स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराया जहां नक्सली हमले में जवान शहीद हुए थे. भेज्जी और कोत्ताचेरु के बीच नक्सल मुठभेड़ में 12 जवान शहिद हुए थे. वही बुर्कापाल के पास 25 जवान शाहिद हुए थे. इन दोनों जगहों पर पुलिस द्वारा तिरंगा फहराया गया.

संसदीय सचिव क्षत्री ने ध्वजारोहण कर ली परेड की सलामी

Narayanpur Indpendence Day

स्वतंत्रता दिवस की 70वीं वर्षगांठ पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्वतंत्रता दिवस का मुख्य समारोह स्थानीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खेल मैदान में सुबह 9 बजे से शुरू हुआ। स्वतंत्रता दिवस समारोह के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव राजू सिंह क्षत्री ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। इसके साथ ही परेड में शामिल सशस्त्र बलों ने तीन बार हर्ष फायर कर राष्ट्रीय धुन के बाद राष्ट्रपति की जयघोष किया।

मुस्लिम समाज ने किया ध्वजारोहण

Ambikapur Muuslim soceity

छत्तीसगढ़ मुस्लिम युवा मंच ने मोमिनपुरा चौक समालय मंदिर के पास ध्वजारोहण किया। इस दौरान सांकृतिक कार्यक्रम भी हुआ, जिसमें देश भक्ति गीत गाकर कलाकारों ने समां बांधा। मुस्लिम समुदाय के लोग भारी संख्या में उपस्थित रहे कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सफी अहमद नेता प्रतिपक्ष और अंजुमन कमिटी के इरफ़ान सिद्दीकी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

रायपुर रेल मंडल मुख्यालय में गौतम ने ध्वजारोहण कर गगन में छोड़ा कबूतर

ध्वजारोहण  Guttam Ratre

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर रेल मंडल में स्वतंत्रता दिवस के अवसर परआयोजित मुख्य समारोह में आज सुबह मंडल रेल प्रबंधक राहुल गौतम ने ध्वजारोहण किया। मंडल मुख्यालय भवन के प्रागंण में ध्वजारोहण के बाद मंडल सुरक्षा आयुक्त आर. के. राय की अगुवाई में मंडल रेल प्रबंधक ने परेड का निरीक्षण किया और आरपीएफ के जवान ,सिविल डिफेंस, सेंट जॉन्स एम्बुलेन्सऔर स्काउट एवं गाईड के सदस्यों की ओर से परेड की सलामी ली। इसी तरह दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर मंडल के विभिन्न कार्यालयों में 70वां स्वतंत्रता दिवस समारोह पूरी परंपरा और उत्साह के साथ मनाया गया।

प्रदेश की सुरक्षा के लिए 295 नवआरक्षक दीक्षित

Police Training

छत्तीसगढ़ प्रदेश और यहां की जनता की सुरक्षा के लिए पुलिस प्रशिक्षण विद्यालय से शुक्रवार को 295 नव आरक्षक दीक्षित हुए। 70 हजार से अधिक की संख्या वाली प्रदेश पुलिस की टीम में आज नए आरक्षकों को शामिल किया गया। 13 महीनों के कठिन प्रशिक्षण के बाद ये नव आरक्षक सेवा और सुरक्षा के लिए संपूर्णता से तैयार हैं। माना स्थित पुलिस प्रशिक्षण विद्यायल में दीक्षांत परेड की गई जिसमें 46 पुरुष और 249 महिला आरक्षक शामिल हुए। अतिरिक्त पुलिस महानिदेश आईपीएस संजय पिल्ले ने बतौर मुख्य अतिथि सत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालों को प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया।

Tharkori residents impress Chief Minister with their warmth

CM Dr. Raman Singh addressing villagers during chaupal at village Tarkari under Dhamdha block

Chief Minister Dr. Raman Singh toured village Tharkori Development block Dhamdha as a part of 'Lok Suraaj' campaign. He conducted 'choupal' and the villagers inter-acted freely with Dr. Raman Singh. He listened patiently to all the grievances of the villagers and assured them that their problems will be solved as soon as possible. Chief Minister was visibly impressed by the warmth of the villagers as they treated him as one among them.