Sukma

Sukma

जनमिलिशिया नक्सली संगठन के सात नक्सली गिरफ्तार, दर्जनों घटनाओं में थे शामिल

जनमिलिशिया नक्सली संगठन के सात नक्सली गिरफ्तार, दर्जनों घटनाओं में थे शामिल

नक्सलियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबल सघन सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा है. मुखबिर से मिली सूचना के आधार से सुकमा पुलिस ने 10 अक्टूबर को चिंतलनार थाने के ग्राम पुलमपाडा से 1 स्थायी वारंटी सहित सात नक्सलियों के सुरक्षाबल के जवानों ने गिरफ्तार किया. पुलिस के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पकड़े गये, इन नक्सलियों पर अलग-अलग थानों कई अपराध के मामले दर्ज है. मिली सूचना के आधार पर पहुंचे सेना के जवानों ने घेराबंदी करके क्षेत्र में दहशत का माहौल फैलाने वाले नक्सलियों से 20 मीटर इलेक्ट्रॉनिक वायर, 2 नग पिट्टू, एक नग रेडियो, स्पाईक्स, बाण्डा एवं 750 रुपए नगदी के साथ अन्य सामग्री बरामद की गई.

इस बार नक्सल इलाकों में महिला कर्मचारी व अधिकारियों पर चुनाव कराने की होगी जिम्मेदारी

इस बार नक्सल इलाकों में महिला कर्मचारी व अधिकारियों पर चुनाव कराने की होगी जिम्मेदारी

इस बार विधानसभा चुनाव में कुछ नया देखने को मिलेगा. निष्पक्ष चुनाव कराने की जिम्मेदारी सचिव से लेकर कलेक्टर की है और बिना प्रभोलन के चुनाव सम्पन्न करना है. इसलिए पहली बार शहरी इलाकों और ब्लाक मुख्यालयों में महिलाएं कर्मचारी व अधिकारियों पर चुनाव कराने की जिम्मेदारी होगी. साथ ही मतगणना में भी 50 फीसदी महिलाएं होगी. इसके अलावा लोकतंत्र के मंदिर मतदान केन्द्रों को सजाया जाएगा और तमाम प्रकार की सुविधाए दी जाएगी. राजनीतिक दलों को आर्दश आंचार सहिता का पालन करने की बात जिला निर्वाचन अधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने कही है.

नक्सलियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए निकाली गई शांति पदयात्रा, 45 किलोमीटर का सफर कर पहुंची दोरनापाल

नक्सलियों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए निकाली गई शांति पदयात्रा, 45 किलोमीटर का सफर कर पहुंची दोरनापाल

नक्सलियों के द्वारा आम नागरिकों को छति पहुंचाने, हिसंक घटनाओं को अंजाम देने व कई अन्य आपराधिक घटनाओं के विरोध में 2 अक्टूबर को शांति पद यात्रा की शुरुआत की गई थी. नक्सलवाद के खिलाफ निकाली गई पद यात्रा 5 अक्टूबर को दोरनापाल पहुंची. पहुंती यात्रा का स्थानीय आदिवासियों के द्वारा पारम्परिक तरीके से स्वागत किया गया. वही शांति के यह यात्रा देश के 6 राज्यों में निकाली जा रही है. जिसमें करीब 150 से अधिक लोग भाग ले रहे है. गांधी जयंती के दिन पूजा-अर्चना के बाद छत्तीसगढ़ के सीमा चट्टी गांव से इस पद यात्रा को शुरु किया गया. जो कि दो दिनों में लगभग 45 किलोमीटर का सफर पूरा करते हुए दोरनापाल पहुंची.

पुलिस को देखकर भाग रहे जनमिलिशिया संगठन का नक्सली गिरफ्तार, कई वारदातों में था शामिल

पुलिस को देखकर भाग रहे जनमिलिशिया संगठन का नक्सली गिरफ्तार, कई वारदातों में था शामिल

कई आपराधिक मामलों को अंजाम देने कर फरार हुए एक नक्सली को सुकमा पुलिस ने गिरफ्तार किया है. मुखबिर के द्वारा स्थानीय थाने में सूचना दी गई कि साप्तहिक बाजार क्षेत्र में एक संदिग्ध व्यक्ति घूम रहा है. पुलिस नें मामले को गंभीरता से लेते हुए बाजार क्षेत्र में पहुंची. जहां पुलिस को देखकर संदिग्ध नक्सली छिपने की कोशिश करने लगा. पुलिस ने घेराबंदी करके नक्सली को दबोच लिया.

कई घटनाओं को अंजाम देने वाले एक स्थाई वारंटी समेत 19 नक्सली गिरफ्तार, पुलिस को लंबे समय से थी इन आरोपियों की तलाश…

a6c12c6c-badc-4f8c-9227-07cded0c6c6f-990x556.jpg

छत्तीसगढ़ के सुकमा में पुलिस ने 19 नक्सलियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है. पुलिस का दावा है कि सुकमा के केरलापाल इलाके से पुलिस ने एक स्थाई वारंटी समेत 19 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है.

आरोपी नक्सली हाल ही में सुकमा के केरलापाल के रबड़ीपारा मे हुए आईईडी ब्लास्ट में शामिल होना बताए जा रहे हैं. इतनी बड़ी संख्या में नक्सलियों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी कामयाबी मानी जा रही है.

जवानों को मिली बड़ी सफलता के बाद, नक्सलियों ने नेशनल हाईवे पर लगाए बैनर-पोस्टर, किया ये ऐलान…

जवानों को मिली बड़ी सफलता के बाद, नक्सलियों ने नेशनल हाईवे पर लगाए बैनर-पोस्टर, किया ये ऐलान…

नक्सली अपने कायराना कारतूत से बाज नहीं आ रहे है. बीते दिनों वाहनों में आगजनी करने के बाद आज नेशनल हाईवे पर बैनर-पोस्टर लगाकर सुकमा बंद का ऐलान किया है. कुछ देर के लिए एनएच 30 मार्ग बाधित हो गया. जिसके बाद जवानों ने इस सड़क से बैनर पोस्टर हटाकर मार्ग खोल दिया है.

जानकारी के मताबिक एर्राबोर थाना क्षेत्र का मामला बताया जा रहा है. नक्सलियों ने सुकमा-कोंटा मार्ग पर गगनपल्ली के पास बैनर-पोस्टर लगाए है. नलकातोंग में हुए मुठभेड़ के विरोध में नक्सलियों ने सुकमा बंद का ऐलान किया है. नक्सलियों ने एनएच 30 सड़क के बीचो बीच पोस्टर लगाकर सड़क जाम कर दिया था.

नक्सल इलाकों में पुलिस चला रही जागरूकता अभियान, स्कूल में जाकर बच्चों को जागरूक करते हुए बांटा गया इनाम

WhatsApp-Image-2018-08-02-at-11.32.34-990x557.jpg

नक्सल विरोधी तेदमुंता बस्तर अभियान के तहत जवानों द्वारा आज दोरनापाल जगरगुंडा मार्ग पर स्थित ग्राम पोलमपल्ली के स्कूल पहुंचे. उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी हमने बच्चों को शिक्षा हेतु प्रोत्साहित करने हेतु शैक्षणिक सत्र की शुरुआत में विभिन्न शालाओं में जाकर नक्सलवाद के खिलाफ जागरूकता लाने का प्रयास किया था. जिसे सतत रूप से जारी रखा गया है. यह अभियान पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिंन्हा, उप पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी, पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा, अतरिक्त पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा, संजय महादेवा के मार्गदर्शन में चलाया जा रहा है.

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में दो नक्सली ढेर, आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आने से एक जवान घायल…

201803242241064590_4-DRG-JAWANS-INJURED-IN-IED-BLAST-IN-SUKMA_SECVPF.jpg

धुर नक्सल प्रभावित इलाका सुकमा में डीआरजी पुलिस औऱ नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है. जिसमें पुलिस ने दो नक्सलियों को मार गियारा है. नक्सलियों का शव भी बरामद कर लिया गया है. वहीं आईईडी ब्लास्ट में एक डीआरजी का जवान घायल हो गया है. एसपी अभिषेक मीणा ने इस घटना की पुष्टि की है.

ठेकेदार कपूरचंद की हत्या मामले में पुलिस ने किया उसके सहयोगी को गिरफ्तार, न्यायिक रिमांड पर भेजा जेल…

2a590ce43d43f92523744fa7e809757c.jpg

सड़क निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार कपूरचंद राजपूत की पिछले दिनों जगरगुंडा रोड के गोरुंडा के पास शव बरामद हुआ था. पुलिस नक्सलियों द्वारा अगवा करने के बाद हत्या कर शव फेक देने की आशंका जता रही थी. वहीं पुलिस ने अब ठेकेदार के साथ गए सहयोगी माड़वी जोगा को गिरफ्तार किया है.

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने उसके सहयोगी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया था. जिसके बाद पुलिस ने जोगा को तीन दिन के न्यायिक रिमांड पर रखा है. उससे पूछताछ की जा रही है. बताया जा रहा है कि माड़वी ने ठेकेदार कपूरचंद को उसी जगह पर लेकर गया था, जहां उसकी हत्या की गई है.

प्रेशर बम से कोबरा बटालियन का जवान घायल, रायपुर रेफर

प्रेशर बम से कोबरा बटालियन का जवान घायल, रायपुर रेफर

सुकमा जिले में बुधवार को नक्सलियों के बिछाए गए प्रेशर बम विस्फोट में सीआरपीएफ कोबरा बटालियन का एक जवान गंभीर रूप से जख्मी हो गया। डीआईजी सुंदरराज पी ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि क्रिस्टारम थाने से बुधवार को सुबह पुलिस का संयुक्त बल गश्त के लिए रवाना किया गया था। लौटते वक्त शाम को ग्राम पलोड़ी के समीप जंगल में नक्सलियों के बिछाए गए प्रेशर बम में पैर पडऩे से जबरदस्त विस्फ ोट हो गया। जिसमें सीआरपीएफ के कोबरा 208 बटालियन का जवान रामदास घोगरी गंभीर रूप से घायल हो गया। जवान के दोनों पैरों के घुठनों के नीचे चोटें आई हैं। सुन्दरराज ने बताया कि उक्त जवान का क्रिस्टारम प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मे