धरने पर बैठी भाजपा, भूपेश सरकार पर लगाया बदलापुर की राजनीति करने का आरोप, एंबुलेंस में पहुंचे पत्रकारों ने हेलमेट पहन किया कवरेज…

bjp-dharna-111-990x557.jpg

भूपेश बघेल सरकार की बदलापुर की राजनीति को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने बूढ़ातालाब में धरना दिया. इसमें प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री राजेश मूणत सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता शामिल हुए. धरने के दौरान पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने कार्यकर्ताओं के साथ सरकार के खिलाफ नारे लगाए. वहीं वक्ताओं ने सरकार पर बदले की कार्रवाई करने का आरोप लगाया.

प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कांग्रेस सरकार पर बदलापुर की राजनीति का आरोप लगते हुए कहा कि कांग्रेस जिस प्रकार से प्रदेश में आतंक का राज स्थापित कर बदलापुर की राजनीति कर रही है. छोटे-छोटे कार्यकर्ताओं पर झूठा प्रकरण बनाकर फंसा रहे हैं. गुंडागर्दी कर रहे हैं. एसआईटी मामले के हाईकोर्ट गए हैं, वहां खारिज हो गया. सुप्रीम कोर्ट वहां भी खारिज हो गया. लेकिन कोर्ट और भरोसा न करते हुए एसआईटी का गठन करना. एसआईटी का गठन करने के बाद शायद उनके ऊपर भी विश्वास नहीं करना. कांग्रेस का कार्यकर्ता रात के डेढ़ बजे जाकर एफआईआर करवाते हैं. ऐसी कौन सी तत्कालीन परिस्थिति आ पड़ी थी कि डेढ़ बजे एफआईआर करानी पड़ी.

भाजपा जिला कमेटी की बैठक को कवर कर रहे पत्रकारों और कैमरामैन से भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा की गई धक्का-मुक्की के विरोध में बुधवार को भी पत्रकारों – कैमरामैन ने अपना विरोध जारी रखी. पत्रकार और कैमरामैन एंबुलेंस में बैठकर स्थल पहुंचे और हेलमेट पहनकर भाजपा के धरने का कवरेज किया. वहीं धरने के दौरान धरमलाल कौशिक ने पत्रकारों के आंदोलन पर कहा कि हमने पत्रकारों से रात में जाकर मुलाकात भी की थी. कहा था आप जो आग्रह करेंगे उस पर बातचीत करेंगे. एफआईआर हुई है, कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी हुई है. पत्रकार हमारे दुश्मन नहीं हैं. राजनेता-पत्रकार एक-दूसरे के पूरक हैं. मांग को लेकर बातचीत करेंगे.

Source: 
lalluram.com

Related News